WFI चीफ के सपोर्ट में उतरीं पहवान दिव्या काकरान, कहा-किसी लड़की के साथ नहीं हुआ गलत| Hindi News



Divya Kakran On Brij Bhushan Singh: पहलवान विनेश फोगाट द्वारा भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह पर यौन शोषण के आरोप लगाए गए हैं. उनके साथ लगभग एक दर्जन पहलवान जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे हैं, लेकिन अब मुजफ्फरनगर की रहने वाली और अर्जुन अवार्डी रेसलर दिव्या काकरान WFI चीफ बृजभूषण शरण के सपोर्ट में उतरीं हैं. उन्होंने वीडियो जारी कर बड़ी बात कही है. 
दिव्या काकरान ने कही ये बात 
भारतीय कुश्ती महासंध के अध्यक्ष बृजभूषण शरण के सपोर्ट में दिव्या काकरान ने कहा, ‘आपको पता ही है सुबह से जो कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सर है, जो उन पर आरोप लगाए जा रहे हैं. जैसे-जैसे शाम ढलती जा रही है. उनकी बातों का कोई रिप्लाई नहीं कर रहा है. साल 2013 में जब मैं 14 साल की थी. तब से कैंप में जा रही हूं. आज मैं 2023 में खुद कैंप में नाम डलवाती हूं. मैं पिछले 10 साल से देखती आई हूं. मेरे साथ या किसी और लड़की के साथ गलत नहीं हुआ है. बल्कि जो खिलाड़ी दूसरे राज्यों से आते हैं. हरियाणा से इतर जिन राज्यों को कोई पूछता नहीं है. वह उन पर ध्यान देते हैं. वह कितनी बार दोबारा ट्रॉयल करवाते हैं. ताकि कोई भेदभाव ना हो.’
@wfi_wrestling @sharan_mp @narendramodi @ianuragthakur @Media_SAI @aajtak @ZeeNews @ABPNews #WrestlingFederationOfIndia #WrestlingFederation pic.twitter.com/kFGwKyxDrg
— Divya kakran (@DivyaWrestler) January 18, 2023
अब ऐसा रूल आ गया है. अगर कोई गलती हो गई है, तो वह 2 दिन बाद दोबारा ट्रॉयल करवाते हैं, जिससे जो निचले स्तर के बच्चे हैं वह कभी ना दबें. 
पहले नहीं मिलती थीं सुविधाएं 
दिव्या काकरान ने आगे बोलते हुए कहा, ‘हमारे PM नरेंद्र मोदी ने भी बृजभूषण सर की तारीफ की है कि वह कितना अच्छा काम कर रहे हैं. पहले हम विदेश जाते थे, तो हमें बिल्कुल सुविधा नहीं मिलती थी. जब मैं 2012 में मंगोलिया गई थी. तब वहां की ना किट अच्छी थी और ना वहां का खाना-पीना. इसके जवाब में ये कहा गया कि आपके फेडरेशन ने पैसे नहीं दिए. अब 2017, 2018 और 2019 में जब से टाटा मोटर्स हमारे साथ जुड़ी है. सर और कंपनियां हमारे लिए ढूंढ कर लाते हैं. उनसे पैसा लेकर वह कैंप और किट पर खर्च करते हैं. 
आज वही लोग उन पर आरोप लगा रहे हैं, जो 2 महीने पहले उनकी तारीफ में ट्वीट कर रहे थे. बृजभूषण सर सबसे ऊपर होकर कुश्ती को बढ़ावा देते हैं.  
केंद्र ने मांगा है जवाब 
केंद्रीय खेल मंत्रालय से WFI से स्पष्टीकरण मांगा है और आरोपों पर 72 घंटों के अंदर अपना जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही मंत्रालय ने लखनऊ में आज से ही शुरू हुए महिला कोचिंग कैंप को भी रद्द करने का ऐलान किया. 
पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi – अब किसी और की ज़रूरत नहीं




Source link