Male infertility: Does thyroid affect fertility in men know how to cope it sscmp | Male infertility: क्या थायराइड पुरुषों में फर्टिलिटी को प्रभावित करता है? जानें इससे कैसे निपटा जाए



Male infertility: थायरॉयड ग्रंथि हार्मोन के उत्पादन के लिए जिम्मेदार है जो मेटाबॉलिज्म और अन्य शारीरिक कामों को नियंत्रित करती है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि जब पुरुषों की फर्टिलिटी की बात आती है तो थायराइड हार्मोन की कमी या एक अनियमित थायराइड कई अलग-अलग समस्याएं पैदा कर सकता है. थायराइड हार्मोन का हाई लेवल गोनैडोट्रोपिन हार्मोन के उत्पादन में हस्तक्षेप कर सकता है, जो टेस्टिस फंक्शन और स्पर्म की क्वालिटी को प्रभावित करता है.
पुरुष फर्टिलिटी को बहाल करने के लिए हेल्दी स्पर्म के विकास और उत्पादन को सुविधाजनक बनाने के लिए थायरॉइड फंक्शन को नॉर्मल रेंज के अंदर रखना और रिप्रोडक्टिव हार्मोन का उचित बैलेंस बनाए रखना महत्वपूर्ण है. अंतर्निहित स्थिति के उचित प्रबंधन के साथ पुरुष अपने प्रजनन फर्टिलिटी में सुधार करने में सक्षम हो सकते हैं और अपने साथी के साथ बच्चे को गर्भ धारण करने की संभावना बढ़ा सकते हैं.
पुरुष फर्टिलिटी समस्याओं से निपटने के कुछ उपाय
1. उचित आहार: लीन मीट, सब्जियां, फलियां और अनाज से भरपूर डाइट लेने से स्पर्म की गतिशीलता में वृद्धि होती है.
2. हेल्दी वजन: पुरुषों को हेल्द वजन बनाए रखें चाहिए क्योंकि अधिक वजन और पुरुष बांझपन के बीच का संबंध काफी मजबूत है.
3. शारीरिक गतिविधि: नियमित व्यायाम से स्पर्म की क्वालिटी बनाए रखने में मदद मिलेगी और तनाव भी कम होगा.
पुरुषों में थायरॉइड के लक्षण
बालों का झड़ना
कम सेक्स ड्राइव
स्पर्म काउंट कम होना
नपुंसकता
मसल्स का नुकसान
टेस्टोस्टेरोन का लेवल कम होना
गाइनेकोमैस्टिया (पुरुष स्तन वृद्धि)
Disclaimer: इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.



Source link