पान के जैसे पत्ते…नाम अमृता, डायबिटीज और हार्ट की बीमारियों के लिए रामबाण! और फायदे जान हो जाएंगे हैरान



संजय यादव/बाराबंकी: धरती पर हमारे आसपास ऐसी हजारों पेड़-पौधे मौजूद हैं, जिनका उनके औषधीय गुणों के कारण कई दवाओं को बनाने के लिए किया जाता है. आयुर्वेद में ऐसे पेड़-पौधों का बहुत महत्व है. आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों की बात होती है, तो अक्सर तुलसी, आंवला,एलोवेरा की सबसे ज्यादा बात होती है. लेकिन ऐसी पौधे हैं जिनका कई बीमारियों के इलाज में दवा बनाने में यूज किया जाता है. ऐसा ही एक औषधि है गिलोय है. इसका वानस्पतिक नाम टीनोस्पोरा कॉर्डीफोलिया है.

इसके पत्ते पान के पत्ते जैसे दिखाई देते हैं. यह जिस पौधे पर चढ़ जाती है, उसे मरने नहीं देती. इसके बहुत सारे लाभ आयुर्वेद में बताए गए हैं, जो न केवल आपको सेहतमंद रखते हैं, बल्कि आपकी सुंदरता को भी निखारते हैं. आयुर्वेद के अनुसार गिलोय की पत्तियां, जड़ें और तना तीनो ही भाग सेहत के लिए बहुत लाभदायक हैं क्योंकि गिलोय में बहुत अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो हमारे शरीर में होने वाली कई बीमारियों की रोकथाम करती है.

इम्यूनिटी बढ़ाने में गिलोय लाभकारीजिला अस्पताल बाराबंकी के डॉ. अमित वर्मा (एमडी मेडिसिन) ने बताया कि आयुर्वेद में गिलोय को टीनोस्पोरा, अमृत बल्ली, अमृता बोला जाता है. गिलोय एक ऐसी बेल है, जो व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर उसे बीमारियों से दूर रखती है. इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो शरीर में से विषैले पदार्थों को बाहर निकालती है. यह खून को साफ करती है, बैक्टीरिया से लड़ती है. लिवर और किडनी की अच्छी देखभाल भी गिलोय के बहुत सारे कामों में से एक है. ये दोनों ही अंग खून को साफ करने का काम करते हैं.

डायबिटीज मरीजों के लिए रामबाणडॉ. अमित वर्मा ने बताया कि गिलोय का स्वाद कड़वा होता है. गिलोय का सेवन डायबिटीज मरीजों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है. अगर किसी को शुगर नहीं है तो इसके काढ़े में थोड़ा सा गुड़ का इस्तेमाल कर सकते है. डेंगू, बुखार, मलेरिया जैसी बीमारियों में गिलोय के पत्ते व तना का रस बनाकर पीने से काफी लाभ होता है. इसके अलावा आंखों की रोशनी, हार्ट और ऐज के फैक्टर को गिलोय काफी कंट्रोल करता है और साथ ही साथ इसकी पत्तियों व तना जड़ का चूर्ण बनाकर सुबह-शाम सेवन किया जाए तो इससे हमारे इम्यूनिटी मजबूत होती है.
.Tags: Barabanki News, Health News, Life18, Local18, Uttar Pradesh News HindiFIRST PUBLISHED : February 10, 2024, 17:53 ISTDisclaimer: इस खबर में दी गई दवा/औषधि और स्वास्थ्य से जुड़ी सलाह, एक्सपर्ट्स से की गई बातचीत के आधार पर है. यह सामान्य जानकारी है, व्यक्तिगत सलाह नहीं. इसलिए डॉक्टर्स से परामर्श के बाद ही कोई चीज उपयोग करें. Local-18 किसी भी उपयोग से होने वाले नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होगा.



Source link