टूट गया अरबों भारतीय फैंस का दिल, टीम इंडिया के हाथ से फिसल गया वर्ल्ड कप, ये रहे 4 कारण| Hindi News



India vs Australia Final: ऑस्ट्रेलिया ने तीन महीने के अंदर दूसरी बार भारतीय क्रिकेट प्रेमियों का दिल तोड़कर रविवार को आईसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल में 79 रनों से जीत दर्ज करके चौथी बार खिताब जीता है. ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में सात विकेट पर 253 रन चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया. भारतीय टीम इसके जवाब में 43.5 ओवर में 174 रन बनाकर आउट हो गई. ऑस्ट्रेलिया की सीनियर टीम ने पिछले साल 19 नवंबर 2023 को अहमदाबाद में खेले गए वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल में भारत को हराकर उसका आईसीसी ट्रॉफी जीतने का इंतजार बढ़ा दिया था. अब उसकी जूनियर टीम ने पिछली बार के चैंपियन भारत को छठी बार अंडर-19 वर्ल्ड कप नहीं जीतने दिया. यह पहला अवसर है जबकि भारत को फाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हार का सामना करना पड़ा. 4 कारण ऐसे रहे जिससे भारत के हाथ से वर्ल्ड कप की ट्रॉफी फिसल गई.
1. भारत का टॉस हारना फाइनल जैसे अहम मुकाबले में भारतीय टीम टॉस हार गई जिससे ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 253 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा कर दिया. यह किसी भी अंडर-19 विश्व कप फाइनल का अब तक का सबसे बड़ा स्कोर था. अंडर-19 वर्ल्ड कप फाइनल के इतिहास में सबसे सफल रन चेज 242 रन का है, जो इंग्लैंड ने 1998 में जोहान्सबर्ग में न्यूजीलैंड के खिलाफ किया था. भारतीय टीम के सामने टारगेट इतना बड़ा था कि वह दबाव में आ गई. जवाब में भारतीय टीम 43.5 ओवर में 174 रन बनाकर आउट हो गई.
2. हरजस सिंह का अर्धशतक 
ऑस्ट्रेलिया के हरजस सिंह भारत के लिए अंडर 19 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल में सबसे बड़े विलेन साबित हुए हैं. हरजस सिंह ने टीम इंडिया के खिलाफ अंडर 19 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल मैच में एक ऐसी पारी खेली जिसने भारत से मैच छीन लिया. ICC अंडर 19 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल मैच में भारतीय मूल के ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर हरजस सिंह ने 64 गेंदों में 55 रनों की पारी खेली. हरजस सिंह ने इस दौरान 3 चौके और इतने ही छक्के लगाए. हरजस सिंह की पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने 254 रनों का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रख दिया. हरजस सिंह इस फाइनल मैच में अपनी टीम के इकलौते ऐसे बल्लेबाज रहे जिन्होंने अर्धशतक लगाया.
3. मुशीर खान और उदय सहारन का फ्लॉप होना
भारत के दो सबसे बड़े धाकड़ बल्लेबाज मुशीर खान और उदय सहारन अंडर 19 वर्ल्ड कप के फाइनल जैसे बड़े मंच पर फ्लॉप साबित हुए. मुशीर खान 22 रन बनाकर आउट हुए, जबकि कप्तान उदय सहारन 8 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. मुशीर खान और उदय सहारन अगर क्रीज पर टिककर बड़ी पार्टनरशिप करते तो भारतीय टीम को हार का मुंह नहीं देखना पड़ता.
4.  भारतीय गेंदबाजों का फ्लॉप शो
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अंडर 19 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल मैच में भारतीय टीम की हार का सबसे बड़ा कारण उसके गेंदबाजों का फ्लॉप होना रहा है. भारत के गेंदबाज फाइनल जैसे अहम मुकाबले में रनों पर अंकुश लगाने में कामयाब नहीं रहे. भारतीय टीम ने इसके अलावा 19 रन एक्स्ट्रा के तौर पर दे दिए. भारतीय गेंदबाज सौम्य पांडे से फाइनल मैच में बहुत उम्मीदें थीं, लेकिन वह सिर्फ एक विकेट ही हासिल कर पाए. 



Source link