सभी गाजरों में बाप है पर्पल रंग का गाजर, सेहत पर करता है जादू की तरह असर, खून से जहर को चूसकर हार्ट को बनाता है फौलाद



Purple Carrot Benefits: गाजर अपने आप में बेहद पौष्टिक सब्जी है. लेकिन पर्पल गाजर सभी गाजरों में सबसे ज्यादा पौष्टिक तत्वों से भरपूर होता है. पर्पल गाजर में सबसे अधिक विटामिन ए है जिसके कारण यह आंखों की रोशनी तेज करने के लिए तो काम करता ही है लेकिन इसमें कई तरह के अतिरिक्त पौष्टिक तत्व होते हैं जो हमारे पूरे शरीर पर जादू की तरह असर करते हैं. पर्पल गाजर में सबसे अधिक और शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो शरीर में इंफ्लामेशन संबंधी दर्द को खत्म करते हैं. पर्पल गाजर खून में गए टॉक्सिन को साफ करने में भी माहिर है. पर्पल गाजर में पर्याप्त मात्रा में फाइबर, पोटैशियम, विटामिन सी, मैग्नीज, विटामिन ए और विटामिन बी के अलावा कई तरह के अन्य तत्व होते हैं जो शरीर के लिए संजीवनी की तरह है.

पर्पल गाजर के फायदे

1. शरीर से जहर को निकालता-हेल्थलाइन की रिपोर्ट के मुताबिक बैंगनी रंग के गाजर में एंथोसाइनिन नाम का कंपाउड होता है जो पोलीफेनॉल एंटीऑक्सीडेंट है. एंथोसाइनिन एंटी-इंफ्लामेटरी एजेंट की तरह काम करता है. एंथोसाइनिन कई तरह के टॉक्सिक कंपाउड जैसे कि प्रो-इंफ्लामेटरी साइटोकिन नाम के कंपाउड को खत्म कर देता है. इससे शरीर में गए जहर बाहर निकल आता है.

2. हार्ट मजबूत बनता-प्रो-इंफ्लामेटरी कंपाउड कई बीमारियों के लिए जिम्मेदार होता है. इससे जोड़ों में दर्द और हार्ट के मसल्स में सूजन हो सकती है. लेकिन पर्पल गाजर में मौजूद एंथोसाइनिन इस प्रो-इंफ्लामेटरी कंपाउड साइटोकिनेस को खत्म करता है. इसलिए पर्पल गाजर हार्ट के लिए बेहद फायदेमंद है.

3. पेट की बीमारी में फायदेमंद- अगर किसी को पेट की असाध्य बीमारी कोलाइटिस है तो उसे पर्पल रंग के गाजर का सेवन करना चाहिए. दरअसल, कोलाइटिस भी सूजन से संबंधित बीमारी है. स्टडी में यह पाया गया है कि पर्पल गाजर के पाउडर से चूहों में कोलाइटिस की बीमारी से बहुत राहत मिली. दरअसल, पर्पल गाजर में मौजूद कंपाउड प्रो इंफ्लामेटरी प्रोटीन को सप्लाई होने वाले ब्लड के मार्ग को रोक देता है जिससे यह कोलाइटिस के बीमारी से राहत दिलाता है.

4. एंटी-कैंसर गुण-अध्ययन में यह भी पाया गया है कि पर्पल रंग के गाजर में एंटी-कैंसर गुण होता है. 12 सप्ताह तक किए गए अध्ययन में पाया गया कि पर्पल रंग के गाजर से बने पाउडर को जब चूहों में दिया गया तो उसमें कैंसर के ट्यूमर कम हो गए. पर्पल रंग का गाजर ब्रेस्ट, लिवर, स्किन, ब्लड और कोलोन कैंसर को कम करने में फायदेमंद है.

5. वेट लॉस-पर्पल रंग के गाजर से वजन को भी कम किया जा सकता है. जो लोग कम हरी सब्जियां खाते हैं, वे अगर बैंगनी रंग के गाजर का सेवन करें तो इससे वजन कम हो सकता है. गाजर बहुत अधिक न्यूट्रशियस है और यह हेल्दी वेट लॉस के लिए रामबाण चीज है.

इसे भी पढ़ें-कोई जरूरी नहीं आंखों को लेकर चिंता करने की, 7 आसान चीजें जीवन में उतार लीजिए, कभी कम नहीं होगी रोशनी

इसे भी पढ़ें-पेट में फंसी सारी गंदगी को वैक्यूम क्लीनर की तरह खींचकर बाहर कर देंगे ये 5 ड्रिंक्स, कब्ज का भी झंझट होगा खत्म, सुबह ही हो जाएंगे फ्रेश
.Tags: Health, Health tips, Lifestyle, Trending newsFIRST PUBLISHED : February 12, 2024, 13:32 IST



Source link