प्रेमी नहीं… पिता ने ही की थी आत्मसम्मान के लिए बेटी की हत्या…पुलिस ने किया नाबालिग मर्डर का सनसनीखेज खुलासा



हाइलाइट्स17 वर्षीय छात्रा की हत्या उसके प्रेमी ने नहीं बल्कि उसके पिता ने की थीऑनर किलिंग के मामले में पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है सिद्धार्थनगर. उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले में शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के खरगवार गांव की 17 वर्षीय छात्रा की हत्या उसके प्रेमी ने नहीं बल्कि उसके पिता ने मान सम्मान के लिए की थी. पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए पिता को गिरफ्तार किया है.

दरअसल, शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के खरगवार गांव की शिवपति इंटर कॉलेज में 11वीं में पढ़ने वाली 17 वर्षीय छात्रा संध्या का शव 10 फरवरी को गांव में ही स्थित एक आम के बगीचे से बरामद हुआ था. शव के हाथ पीछे से बंधे हुए थे. किशोरी स्कूल की ड्रेस व नीले रंग का जैकेट पहने हुई थी. पीठ पर स्कूल बैग भी टंगी हुई थी. उसके मुख पर उल्टी के निशान थे. नाक से खून भी आया हुआ था. गले पर कोई निशान नही थे. शरीर पर कुछ चोट के निशान पड़े हुए थे.

मृतक किशोरी की मां माधुरी देवी ने थाने में तहरीर दी जिसके अनुसार उसकी पुत्री संध्या (17) पुत्र प्रहलाद प्रजापति शिवपति इंटर कॉलेज में 11वीं क्लास की छात्रा थी. मृतक किशोरी शुक्रवार को घर से सुबह 8 बजे निकलकर कालेज में हो रहे वार्षिक परीक्षा में इतिहास विषय का परीक्षा देने के लिए निकाली और कॉलेज से 12 बजे परीक्षा देकर लौट रही थी. लेकिन वह शाम तक घर नहीं पहुंची. घर नहीं पहुंचने पर उसकी मां परेशान होकर इधर उधर खोजने लगी. जब उसका पता नहीं चला, तो इसकी सूचना पुलिस को दी. वहीं पुत्री शाम तक घर न आने की सूचना पर मुंबई जा रहे पिता प्रहलाद रास्ते से वापस लौट आया. 10 फरवरी को किशोरी का भाई अंकुश गांव के पूर्व में बने प्राथमिक विद्यालय के पास गया था. विद्यालय के पास आम के बगीचे में देखा कि एक शव पड़ा है. शव के नज़दीक पहुंचकर देखा तो संध्या की ही लाश थी. उसके बाद वह जोर-जोर रोने लगा. रोने की आवाज सुनकर वहां ग्रामीण इकट्ठा हो गए. सूचना पर घटना स्थल पर पुलिस व फांरेंसिक टीम पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और साथ ही विभिन्न तत्थों की पड़ताल शुरू की.

पिता ही निकला कातिलपुलिस ने किशोरी की हत्या उसके पिता द्वारा किए जाने का खुलासा करते हुए आरोपी पिता को समुचित धाराओं में जेल भेज दिया है. हत्या की वजह ऑनर किलिंग बताई जा रही है. सोमवार को इस हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस कप्तान प्राची सिंह ने बताया कि पिछले की 10 फरवरी को शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के खरगवार गांव में एक किशोरी का शव गांव के बाहर बाग में मिला था. मृतका की मां ने इस हत्या के लिए गांव के ही एक युवक अंकित उपाध्याय को जिम्मेदार ठहराते हुए उसके खिलाफ तहरीर दी थी. पुलिस कप्तान ने बताया कि मृतक की मां की तहरीर मिलने के बाद पुलिस की कई टीम बनाकर गहनता से मामले की छानबीन की गई तो मृतिका संध्या का पिता प्रहलाद ही असली कातिल निकला.

ऐसे की हत्यापुलिस अधीक्षक प्राची सिंह ने बताया कि मृतिका संध्या के पिता को अंकित के साथ उसके प्रेम प्रसंग का पता चल गया था. उसके मना करने के बावजूद भी लगातार उसकी बेटी अंकित से मिल रही थी, जो बात उसे नागवार गुजरी. आरोपी पिता प्रहलाद ने पुलिस को बताया कि 10 फरवरी को उसने अपनी पुत्री को ठिकाने लगाने की योजना बना ली थी. इसके तहत उसने अपनी पत्नी को मुंबई जाने की बात बताई और घर से निकल गया. इधर-उधर समय काट कर दोपहर 12:00 बजे जब उसकी बेटी स्कूल से पढ़ कर वापस आ रही थी तो उसने उसे रोक लिया और दिनभर अपने साथ इधर-उधर मंदिर के दर्शन कराता रहा. रात 8 बजे उसने फिर अपनी बेटी को समझाने का प्रयास किया, लेकिन जब वह नहीं मानी तो उसने अपने मफलर से गला घोट कर उसकी हत्या कर दी और रात की ट्रेन पकड़ कर लखनऊ चला गया. सुबह जब उसकी पत्नी ने बेटी के शव मिलने की बात बताई तो उसने प्लान के तहत अपनी पत्नी से अंकित के नाम की रिपोर्ट लिखने की बात कही और घर आने के लिए वापस लौट पड़ा. इस बीच पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस कप्तान ने बताया कि इस्तेमाल किए गए मफलर अन्य सामानों को पुलिस ने बरामद कर लिया है और आरोपी पिता को समुचित धाराओं में जेल भेज दिया गया है.
.Tags: Siddharthnagar News, UP latest newsFIRST PUBLISHED : February 13, 2024, 09:18 IST



Source link