Meerut news: हमारे किसान भोले जरूर हैं; पर…, रालोद की सोशल मीडिया पोस्‍ट से हलचल बढ़ी, क्‍या होगा खेला?



मेरठ. एनडीए में शामिल होने की खबरों के बीच रालोद ने अपने ऑफिशियल एक्स अकाउंट से किसानों को लेकर बड़ा पोस्ट किया है. रालोद मुखिया की तस्वीर लगाकर लिखा गया है कि हमारे किसान भोले जरूर हैं; पर मूर्ख नहीं है. वे बहुत समझदार और सशक्त हैं. गौरतलब है कि आजकल रालोद और भाजपा की नजदीकियों को लेकर वेस्ट यूपी की सियासत गर्म है. माना जा रहा है कि गठबंधन को एक और बड़ा झटका लगना तय है.

चर्चाओं ने जोर पकड़ा तो सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी बहुत सुलझे हुए इंसान हैं. वो बहुत पढ़े लिखे हैं. वे राजनीति को समझते हैं. मुझे उम्मीद है कि किसानों की लड़ाई के लिए जो संघर्ष चल रहा है, वे उसे कमज़ोर नहीं होने देंगे. इस बयान के बाद राष्ट्रीय लोकदल की तरफ से एक्स पर किसानों को लेकर पोस्ट किया गया कि हमारे किसान भोले जरुर हैं पर मूर्ख नहीं हैं. वे बहुत समझदार और सशक्त हैं.

समाजवादी पार्टी ने किया था गठबंधन का ऐलान, सीट शेयरिंग पर उलझा पेंचसपा प्रमुख अखिलेश यादव रालोद से गठबंधन की घोषणा कर चुके हैं. सीटें चिह्नित करने और सपा की ओर से तीन सीटों पर रालोद के चुनाव निशान पर अपने उम्मीदवार खड़ा करने की शर्त पर पेच फंस गया लगता है. बताया जाता है कि सपा चाहती है कि कैराना, मुजफ्फरनगर और बिजनौर में प्रत्याशी सपा का हो, जो रालोद के चुनाव चिह्न पर मैदान में उतरे. सपा के समक्ष मुजफ्फरनगर सीट पर रालोद ने दावा किया था, जहां बीते चुनाव में दिवंगत अजीत सिंह महज छह हजार मतों से हार गए थे.

लोकसभा चुनाव में भाजपा के साथ जा सकती है रालोद, लेकिन…रालोद नेताओं ने कैराना और बिजनौर सीट सपा के बताए प्रत्याशियों को देने पर सहमति भी दे दी थी. लेकिन मुजफ्फरनगर और हाथरस सीट को लेकर दोनों दलों के बीच दूरियां बन गईं. रालोद भाजपा की नज़दीकियों की ख़बरों के बीच सियासी गलियों में सबने अपने-अपने समीकरण लगाने शुरू कर दिए हैं. रालोद नेतृत्व ने अभी तक न तो इन्कार किया और न ही इकरार, जिस कारण चर्चाएं और तेज़ी से हो रही हैं.
.Tags: Jayant Chaudhary, Meerut news, Rastriya lok dal, UP Politics Big Update, Uttar pradesh news, Uttar Pradesh News Hindi, West UPFIRST PUBLISHED : February 8, 2024, 24:07 IST



Source link