Lucknow News: अकेलेपन ने तोड़ दिया सुजाता को, जू में छोड़ दिया है खाना-पीना, इलाज जारी



रिपोर्ट : अंजली सिंह राजपूत

लखनऊ. लखनऊ के पशु प्रेमियों के लिए एक बुरी खबर है – दरअसल नवाब वाजिद अली शाह चिड़ियाघर की इकलौती स्टार मादा जिराफ की तबीयत खराब हो गई है. सुजाता ने खाना-पीना छोड़ दिया है. यही नहीं उसने अपने बाड़े के अंदर टहलना भी बंद कर दिया है. सोमवार से सुजाता ने पत्तियां भी खानी बंद कर दी है.

सुजाता के व्यवहार में अचानक आए इस बदलाव को देखते हुए नवाब वाजिद अली शाह चिड़ियाघर प्रबंधन में हड़कंप मच गया है. आनन-फानन में उप निदेशक और वरिष्ठ पशु चिकित्सक एवं वाइल्डलाइफ एक्सपर्ट डॉक्टर उत्कर्ष शुक्ला ने सुजाता के लिए बरेली से आईवीआरआई के पशु चिकित्सकों की टीम के साथ ही आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय अयोध्या से विशेषज्ञ को बुलवाया है.

आपके शहर से (लखनऊ)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

सुजाता की दुख भरी यात्रा

आपको बता दें कि सुजाता का जन्म 2001 में कोलकाता के अलीपुर प्राणी उद्यान में हुआ था. मादा जिराफ को वर्ष 2003 में लखनऊ चिड़ियाघर लाया गया था. लखनऊ चिड़ियाघर में सुजाता को एक हमसफर भी मिल गया था जिसका नाम अनुभव था. हालांकि अनुभव ने 2016 में इस दुनिया को अलविदा कह दिया था, जिसके बाद से सुजाता लखनऊ चिड़ियाघर में अकेले ही रह रही है. अनुभव और सुजाता का एक बच्चा भी था जो बीमारी के चलते उनका साथ छोड़ गया था. दोनों के जाने के बाद से ही सुजाता पूरी तरह से टूट चुकी थी.

बुढ़ापे का असर!

लखनऊ चिड़ियाघर के पूर्व निदेशक अनुपम गुप्ता हों या अन्य निदेशक सभी ने सुजाता के लिए एक नया जीवन साथी खोजने का बहुत प्रयास किया. लेकिन जिराफों की संख्या कम होने के चलते कहीं से भी सफलता नहीं मिली. वर्तमान में सुजाता की उम्र करीब 22 वर्ष आंकी गई है. चिकित्सकों का कहना है कि सुजाता अब बूढ़ी हो गई है. उम्र ज्यादा होने के चलते उसे यह दिक्कतें हो रही हैं.

चिकित्सक कर रहे इलाज

उपनिदेशक डॉ. उत्कर्ष शुक्ला ने बताया कि मादा जिराफ सुजाता का इलाज किया जा रहा है. उसकी मॉनिटरिंग की जा रही है. बाहर से चिकित्सकों की टीम को भी बुलाया जा रहा है. उम्मीद है वह स्वस्थ हो जाएगी.
ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|Tags: Lucknow news, UP news, Wild lifeFIRST PUBLISHED : January 17, 2023, 20:52 IST



Source link