कौन है झांसी आरटीओ में यह तीसरा व्यक्ति? जो कंप्यूटर पर निपटा रहा था फाइल, हुआ कैमरे में कैद



शाश्वत सिंह/झांसी : झांसी के आरटीओ कार्यालय की कार्यशैली हमेशा से ही विवादों में रही है. दलालों के लिए बदनाम आरटीओ कार्यालय यहां आने वाले लोगों से अवैध वसूली के लिए कई तरह के हथकंडे अपनाता है. एक बार फिर से झांसी के आरटीओ कार्यालय में ऐसा ही एक नया मामला सामने आया है. आम लोग यहां पर अपना काम करवाने जाते हैं लेकिन उन्हें नहीं पता होता कि वह आरटीओ में फर्जीवाड़े का शिकार हो सकते हैं. आरटीओ ऑफिस में बाबू की कुर्सी पर बैठकर कोई और शख्स कंप्यूटर चलाता है, फाइल संभालता है और यहां तक की कई महत्वपूर्ण सरकारी काम भी करता है.

झांसी के आरटीओ कार्यालय में अफसरों की कुर्सी पर ऑफिस टाइम में ऐसा शख्स बैठता है जो न तो यहां का अफसर हैं और न ही कर्मचारी. ये बाहरी शख्स यहां पर संविदा या आउटसोर्स कर्मचारी भी नहीं हैं. तो फिर ये शख्स कौन है जो अफसरों की कुर्सी पर न सिर्फ बैठे दिखाई देता है बल्कि सरकारी कम्प्यूटर को ऑपरेट भी करता है और फाइलों को भी हैंडल करता है.

ऑफिस में करता है काम फिर भी विभाग के लोग अनजानयह शख्स कार्यालय में इस तरह से मौजूद रहता है जैसे वह आरटीओ कार्यालय का ही कोई कर्मचारी या अफसर हो. कार्यालय का एक ऐसा ही वीडियो कैमरे में कैद हुआ है, जिसमें एक बाहरी व्यक्ति जिसका नाम विवेक बताया जा रहा है वह प्रवर्तन विभाग के कम्प्यूटर और फाइलों को हैंडल करता हुआ दिखाई दे रहा है. जबकि यहां अधिकृत रूप से दो व्यक्ति राम प्रकाश और सत्येंद्र काम करते हैं. यह वीडियो आरटीओ अफसरों की भूमिका पर सवाल खड़ा कर रहा है. दूसरी ओर जब यहां के जिम्मेदार अफसरों से इस बारे में पूछा जाता है तो वे इस शख्स को पहचानने से ही इंकार कर देते हैं.

विवादों से आरटीओ कार्यालय का पुराना नाताझांसी के आरटीओ कार्यालय की कार्यशैली हमेशा से ही विवादों में रही है. दलालों के लिए बदनाम आरटीओ कार्यालय यहां आने वाले लोगों से अवैध वसूली के लिए कई तरह के हथकंडे अपनाता है. दलालों से मुक्त करने के लिए कई अभियान भी चलाए गए. कई लोगों पर कार्रवाई भी हुई. इसके बाद सीसीटीवी कैमरों से बचने के लिए यहां के अफसरों और कर्मचारियों ने लेनदेन के लिए कई नए तरीके खोज निकाले हैं. बाहरी शख्स की आरटीओ कार्यालय में इस तरह से मौजूदगी और फाइलों को निपटाने का यह वीडियो बता रहा है कि दलाली के खेल को अंजाम देने के लिए पूरा नेटवर्क तैयार किया गया है. इस नेटवर्क से आम लोग फर्जीवाड़े का शिकार होते जा रहे हैं.

बाहरी लोगों की तुरंत करें शिकायतएआरटीओ प्रशासन डॉ. सुजीत सिंह कहते हैं कि वीडियो में एक शख्स बैठा हुआ दिखा है. इस व्यक्ति के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है. इस मामले में सम्बंधित क्लर्क से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा. हम देखते हैं कि कोई अनधिकृत व्यक्ति आरटीओ कार्यालय में किसी तरह का कोई काम न करे या यहां आने वाले लोगों को किसी तरह बेवक़ूफ न बना सके. इसे रोकने के लिए हम प्रयास करते हैं. आम लोगों को भी अगर कोई ऐसा बाहरी व्यक्ति काम करते दिखता है तो उन्हें तुरंत शिकायत करनी चाहिए. वीडियो के आधार पर कोई कमी पायी जाती है तो इसमें कार्रवाई की जाएगी.
.Tags: Jhansi news, Local18, Uttar Pradesh News HindiFIRST PUBLISHED : February 6, 2024, 22:26 IST



Source link