ज्ञानवापी में मिले कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग होगी या नहीं, इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई आज



हाइलाइट्सआज दोपहर दो बजे जस्टिस जेजे मुनीर की सिंगल बेंच में इस मामले पर सुनवाई होगीकार्बन डेटिंग की अनुमति नहीं दिए जाने के फैसले के खिलाफ याचिका दाखिल की गई हैआशंका व्यक्त की गई थी कि कार्बन डेटिंग से कथित शिवलिंग को नुकसान हो सकता हैप्रयागराज. वाराणसी के ज्ञानवापी परिसर से बरामद हुए कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग के जरिए साइंटिफिक सर्वे की मांग वाली याचिका पर गुरुवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट में अहम सुनवाई होनी है. आज दोपहर दो बजे जस्टिस जेजे मुनीर की सिंगल बेंच में इस मामले पर सुनवाई होगी. इस मामले में एएसआई यानी आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया ने अभी तक अपना हलफनामा दाखिल नहीं किया है. एएसआई अपना जवाब दाखिल करने के लिए आठ हफ्ते की और मोहलत चाहती है. इससे पहले हाईकोर्ट ने एएसआई से पूछा था कि क्या बिना नुकसान पहुंचाए हुए कार्बन डेटिंग की जा सकती है.

गौरतलब है कि कमीशन कार्यवाही के दौरान मिले कथित शिवलिंग का साइंटिफिक सर्वे एएसआई से कराए जाने की मांग को लेकर हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई है. 16 मई 2022 को कमीशन की कार्यवाही के दौरान कथित शिवलिंग बरामद हुआ था. कार्बन डेटिंग की अनुमति नहीं दिए जाने के निचली अदालत के फैसले के खिलाफ हिंदू पक्ष ने यह याचिका दाखिल की है.

वाराणसी जिला जज की कोर्ट ने की थी अर्जी ख़ारिजदरअसल, जिला जज वाराणसी ने 14 अक्टूबर 2022 को कार्बन डेटिंग की मांग वाली अर्जी को खारिज कर दी थी. इस आदेश को चुनौती देते हुए याचिकाकर्ता लक्ष्मी देवी, सीता साहू, मंजू व्यास और रेखा पाठक की ओर से सिविल रिवीजन दाखिल की गई है. 30 नवंबर को हुई पिछली सुनवाई में कोर्ट ने एएसआई से पूछा था कि क्या बिना नुकसान पहुंचाए हुए कार्बन डेटिंग की जा सकती है? इस मामले में एएसआई को अपना जवाब दाखिल करना है. बता दें कि आशंका व्यक्त की गई थी कि कार्बन डेटिंग से कथित शिवलिंग को नुकसान हो सकता है. जिसके बाद वाराणसी की अदालत ने साइंटिफिक सर्वे कराने की अर्जी खारिज कर दी थी.

आपके शहर से (इलाहाबाद)

उत्तर प्रदेश

26 जनवरी को हरियाणा में किसानों का ट्रैक्टर मार्च, राकेश टिकैत बोले-BJP ने राम मंदिर में भी किया गबन

Love Jihad: आलम बनकर अनुज ने रचाई शादी, दो गोलियां खाकर न्याय की लड़ाई लड़ रही पल्लवी

सनातन धर्म को अपमानित करने वाले सिनेमा, सीरियल बनाया तो एक्शन लेगा धर्म सेंसर बोर्ड, जानें पूरी खबर

प्रयागराज के माघ मेले में इस्लामिक साहित्य की बिक्री, मास्टरमाइंड ने किये कई चौंकाने वाले खुलासे

Prayagraj News: कोरोना काल 2020-21 में वसूले गए फीस का 15 फीसदी रकम लौटाएंगे स्कूल

Magh Mela: आपके पुरखों ने क्या किया था दान? यहां चलते हैं पीढ़ियों के बहीखाते, ऐसे देख सकते हैं आप

Sarkari Naukri 2023: कंटेनमेंट बोर्ड में सहायक शिक्षक समेत इन पदों पर भर्तियां, 12वीं के पास के लिए भी मौका

Prayagraj News: माघ मेले में संगम किनारे बसाई गई टेंट सिटी, एक रात का चार्ज 5 हजार, जानें खूबी

Allahabad Magh Mela: मेला में पहुंचे इस साधु ने जटा में उगा रखा है जौ, जानें खास वजह

भोजपुरी में पढ़ें – माघ मेला के परम आनंद, गंगा स्नान आ कल्पवास

Ajab-Gajab: मिलिए दरियागंज के बाबाजी से, चाहते हैं लिम्का बुक में दर्ज हो पैर का अंगूठा छूती उनकी दाढ़ी

उत्तर प्रदेश

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|Tags: Allahabad high court, Gyanvapi Masjid ControversyFIRST PUBLISHED : January 19, 2023, 09:21 IST



Source link