एक या दो नहीं, अब से तीन मैचों की होगी टेस्ट सीरीज? सामने आई बड़ी खुशखबरी| Hindi News



Test Cricket: मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) की विश्व क्रिकेट समिति ने कुछ सिफारिशें हैं जिसमें कम से कम तीन मैच की टेस्ट सीरीज कराना और द्विपक्षीय सीरीज में मेहमान टीम का खर्च घरेलू टीम द्वारा वहन किया जाना शामिल है. खेल के नियमों के संरक्षक एमसीसी की विश्व क्रिकेट समिति की पिछले हफ्ते SA20 के मौके पर केपटाउन में बैठक हुई.
टेस्ट क्रिकेट के लिए उठाया गया बड़ा कदमसमिति द्वारा जारी बयान में उसने ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच सीरीज का निर्णायक मैच नहीं होने पर अफसोस जताया. दिसंबर में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच भी दो मैच की कड़ी प्रतिस्पर्धा वाली सीरीज ड्रॉ रही थी. समिति ने कहा, ‘आजकल खेले जा रहे रोमांचक टेस्ट क्रिकेट और खेल के पारंपरिक प्रारूप को बनाए रखने के महत्व के समर्थन में WTC ने सिफारिश की है कि पुरुषों की टेस्ट सीरीज में 2028 (अगले चक्र) से अगले आईसीसी भविष्य दौरा कार्यक्रम में कम से कम तीन मैच की सीरीज खेली जाएं.’
सामने आई बड़ी खुशखबरी 
डब्ल्यूसीसी ने आईसीसी सदस्य देशों के बीच असमानता पर भी बात की और खेल को ऐसे क्षेत्रों में ले जाने की बात की जहां यह नहीं खेला जाता. इसमें कहा गया, ‘यह खेल भारत के प्रति कृतज्ञता का ऋणी है, क्योंकि क्रिकेट के प्रति जुनून से वैश्विक खेल में धन आता है. लेकिन भारत पर यह निर्भरता के बावजूद खेल को अपने वैश्विक विकास को सुनिश्चित करने के लिए नए बाजारों की पहचान करने की जरूरत है, क्योंकि ऐसे समय में मौजूदा चक्र से आगे मीडिया अधिकारों की कोई गारंटी नहीं है.’
मेहमान टीम की यात्रा खर्च उठाए मेजबान
हाल में वेस्टइंडीज क्रिकेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने दावा किया था कि उनकी टीम का यात्रा खर्च बोर्ड के बजट का एक हिस्सा है. मौजूदा स्थिति में घरेलू टीम को सीरीज से सभी मीडिया अधिकार से मिलने वाला राजस्व रखने का अधिकार है, लेकिन डब्ल्यूसीसी चाहता है कि इसकी समीक्षा की जाए. बयान में कहा गया, ‘डब्ल्यूसीसी को पता है कि खेल की वैश्विक अर्थव्यवस्था काफी असंतुलित है जो दौरा करने वाली टीम के लिए नुकसानदायक है, क्योंकि उसे ही अपनी यात्रा के खर्च का वहन करना होता है जबकि सीरीज के पूरे राजस्व पर अधिकार मेजबान देश का होता है.’
सौरव गांगुली भी पैनल में शामिल 
इसमें कहा गया, ‘समिति इस मॉडल पर पुनर्विचार करने का फैसला करती है जिसमें भविष्य के सभी द्विपक्षीय क्रिकेट के लिए दौरा करने वाली टीम का खर्चा घरेलू संस्थाओं द्वारा उठाने जाने का विश्लेषण किया जाना चाहिए.’ समिति भविष्य दौरा कार्यक्रम चक्र में मुकाबलों का समान वितरण भी चाहती है. डब्ल्यूसीसी के अध्यक्ष श्रीलंका के कुमार संगकारा हैं, जबकि अन्य सदस्यों में क्लेयर कोनोर, कुमार धर्मसेना, सौरव गांगुली, झूलन गोस्वामी, हीथर नाइट, जस्टिन लैंगर, इयोन मोर्गन, रमीज राजा, रिकी स्केरिट और ग्रीम स्मिथ शामिल हैं.



Source link