दिल्‍ली-मेरठ एक्‍सप्रेसवे पर प्रतिबंधित वाहनों के चालान से पुलिस के खजाने में आए इतने करोड़



हाइलाइट्सचार करोड़ रुपये के करीब जमा हुए चालान सेईस्‍टर्न पेरीफरेल पर भी पुलिस कर रही है कार्रवाईगाजियाबाद. उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने दिल्‍ली मेरठ एक्‍सप्रेसवे और ईस्‍टर्न पेरीफेरल पर प्रतिबंधित वाहनों के खिलाफ अभियान चलाकर सरकारी खजाने में करोड़ों रुपये जमा कर दिए हैं. यह अभियान लगातार बढ़ रहे सड़क हादसों में कमी लाने के उद्देश्य से चलाया गया है. इन दोनों सड़कों पर दो पहिया, तिपहिया, ट्रैक्टर ट्राली और भैंसा बुग्गी पूरी तरह से प्रतिबंधित की गई हैं, बावजूद भी ये वाहन लगातार दौड़ते हैं. उत्‍तर प्रदेश पुलिस द्वारा चलाए गए अभियान में महज 13 दिन में करीब 4 करोड़ रुपए के चालान किए हैं, जो सरकारी खजाने में जमा किए गए हैं.

गाजियाबाद के अपर पुलिस उपायुक्त यातायात रामानंद कुशवाहा ने  बताया कि दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे / ईस्टर्न पेरीफेरल पर आये दिन सड़क दुर्घटनाएं हो रही हैं, जिसमें लोगों की जान जा रही हैं. विगत वर्ष 2022 में दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे और ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे पर कुल 168 सड़क दुर्घटनाएं हुई हैं, जिसमें कुल 106 लोगों की मृत्यु और कुल 125 लोग घायल हुये है.

उन्‍होंने बताया कि दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे और ईस्टर्न पेरीफेरल पर अधिकतम स्पीड 100 किमी प्रतिघण्टा निर्धारित है. बढ़ती दुर्घटनाओं को देखते हुए कुल 08 स्थानों दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे के इन्ट्री प्वाईन्ट्स पर यातायात पुलिस द्वारा अतिरिक्त पुलिस बल नियुक्त कर प्रतिबन्धित वाहनों को एक्सप्रेस-वे पर जाने से रोका जा रहा है. जो वाहन मेरठ और दिल्ली की ओर से एक्सप्रेस-वे पर आ रहे हैं. उनका चालान नो-एन्ट्री का चालान किया जा रहा है, नो एन्ट्री का चालान 20,000 रुपये का है.

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

उत्तर प्रदेश

दिल्ली-एनसीआर

उत्तर प्रदेश

दिल्ली-एनसीआर

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|Tags: Delhi Meerut Expressway, Traffic PoliceFIRST PUBLISHED : January 19, 2023, 10:22 IST



Source link