भगवा वस्त्र में ठग निकला नफीस, गांव पहुंच कर रचा प्रपंच! लुटने से बचा लापता बेटे का पिता



आदित्य कृष्ण/अमेठी : 22 साल पहले गायब हुआ बेटा जब अमेठी में अपने घर संन्यासी पहुंचा तो सबकी आंखे छलक गई थी. घरवालों की कोशिश थी कि बेटा किसी तरह साधु का जीवन छोड़ कर गृहस्थ जीवन में वापस आ जाए. पहले तो कथित बेटे ने इंकार कर दिया और बाद में घर वापस लौटने के लिए फोन करने लगा. यहां तक तो सबकुछ ठीक ठाक था. परिवार के सामने बेटे ने घर वापस लौटने के एवज में मठ को 10 लाख से अधिक की रकम चुकाने की शर्त बताई और पिता की मठ के गुरु से बात भी कराई. दोनों के बीच 360000 में पुत्र की घर वापसी की सहमति बनी. पैसों पर सहमत होने के बाद पिता को यह मामला संदिग्ध नजर आया. जिसके बाद उन्होंने मामले की शिकायत पुलिस से की.

अरुण की शक्ल में भिक्षा मांग रहे नफीस को पाने के लिए पिता रतिपाल ने अपनी 10 बिस्वा जमीन बेच दी थी. उसे मोबाइल भी खरीद कर बात करने के लिए दे दिया. परिवार के साथ गांव के लोगों ने भिक्षा में करीब 13 क्विंटल अनाज दिया. यह अनाज वह पिकअप पर लादकर अयोध्या लाया. उसने बताया कि हमारे गुरु का आदेश है कि अपने गांव और मां-बाप से भिक्षा लेकर आओ तभी तुम्हारा संकल्प पूरा होगा. पिकअप चालक अयोध्या में जिस स्थान पर छोड़कर आया था. पिता रतिपाल के साथ गांव के कुछ लोग अयोध्या गए पिकअप चालक के बताए पते पर उसकी खोजबीन किया. लेकिन वहां कोई नहीं मिला. बाद में परिवार को पता चला की जिसे अरुण समझकर वह अपने घर पर रखने के लिए तैयार थे. वह गोंडा का नफीस है जो साधु के भेष में ठगी का काम करता है.

नफीस को मालूम थी अरुण की कहानीपुलिस की जांच में सामने आया कि गोंडा के नफीस ने ठगी करने का एक बहुत बड़ा जाल रचा था लेकिन पिता की सतर्कता से नफीस की पोल खुल गई. जिससे एक गरीब परिवार ठगी का शिकार होते-होते बच गया. नफीस की शादी खरौली गांव में ही हुई थी. उसकी पत्नी का नाम पूनम है. इसका एक बेटा अयान है. यहां के रहने वाले रतिपाल का बेटा अरुण 11 साल की आयु में दिल्ली से गायब हो गया था. उसे गायब हुए करीब 22 साल हो गए. नफीस को यह कहानी पहले से ही पता थी.  नफीस अरुण बनकर अपने मां-बाप से भिक्षा मांगने पहुंच गया.

पहले भी ठगी को दे चुका है अंजामसाइबर एक्सपर्ट अनूप सिंह बताते हैं कि गोंडा का नफीस कई जगहों पर ठगी कर चुका है और इसके कई सारे फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर पहले भी वायरल हो चुके हैं. कई लोगों ने पहले भी इसकी शिकायत की थी. अब यह जांच का विषय है. पुलिस लगातार परिवार के संपर्क में है. किसी भी तरह की ठगी नहीं होने दी जाएगी. पूरे मामले पर पुलिस की नजर है.

पुलिस ने मामला किया दर्जक्षेत्राधिकारी अजय कुमार सिंह ने कहा कि रतिपाल सिंह की तरफ से शिकायत मिली थी कि उनका बेटा लापता हुआ है वह आ गया और अब उसे वापस करने के एवज मे उनसे पैसे की डिमांड की जा रही है. रतिपाल सिंह की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है और मामले की छानबीन की जा रही है.
.Tags: Amethi news, Local18, Uttar Pradesh News HindiFIRST PUBLISHED : February 10, 2024, 21:35 IST



Source link