बड़े कमाल का है ये पौधा… पाइल्‍स-पैरालिसिस से दिलाता है छुटकारा! डायबिटीज भी करे कंट्रोल



संजय यादव/बाराबंकी: देशभर में तमाम ऐसे पेड़ पौधे हैं जिनकी पत्तियां आयुर्वेद में बहुत ही लाभदायक मानी जाती हैं. इनका उपयोग तरह-तरह की बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है. ऐसी ही एक जड़ी बूटी है मदार. बता दें कि मदार के पौधे को आम बोलचाल में आक के नाम से भी जाना जाता है. हालांकि हिन्‍दू धर्म इसकी पूजा अर्चना भी करते हैं. वहीं, आयुर्वेद के हिसाब से मदार का पौधा औषधीय गुणों से भरपूर है.

यह पौधा मुख्य रूप से बाग-बगीचों, घर के आसपास और बंजर जमीनों पर आसानी से मिल जाएगा. बाराबंकी के आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉक्टर अमित वर्मा ने बताया कि यह पौधा औषधीय गुणों से भरपूर होता है. साथ ही यह इंसान की तमाम बीमारियों को जड़ से खत्म करने में मददगार है. इस पौधे के पत्तों से निकलने वाले दूध में कई तरह की बीमारियों से लड़ने के गुण पाए जाते हैं. मदार का पत्ता काफी जहरीला होता है, लेकिन यह हमें पैरालिसिस, बवासीर, शरीर में दर्द, सूजन, त्वचा संबंधित कई बीमारियों की समस्याओं में राहत दिलाता है.

कई बीमारियों का है रामबाणडॉक्टर अमित वर्मा ने बताया कि मदार के पौधे को आक के नाम से भी जाना जाता है. इस पौधे के पत्तों में दूध निकलता है. इसका दूध काफी फायदेमंद होता है. अगर किसी भी अंग पर सूजन हो जाती है, तो वहां पर इसका लेप लगाया जाता है. इससे तत्‍काल सूजन कम हो जाती है. साथ ही साथ यह बवासीर में काफी लाभकारी है. इसके अलावा मदार से पेट की बीमारियां, त्वचा संबंधित समस्या और एक्जिमा से राहत मिलती है. दरअसल मदार की पत्तियों का लेप लगाने से फायदा मिलता है.

पैरालिसिस से लेकर बवासीर तक कारगरडॉक्टर अमित वर्मा ने बताया कि मदार का उपयोग पारंपरिक चिकित्सा में सूजन रोधी गुणों के लिए किया जाता रहा है. शरीर में कहीं दर्द हो रहा हो तो इसके पत्तों को गर्म करके सूती कपड़े से उस जगह पर बांध दिया जाए, तो बहुत ही जल्दी दर्द से राहत मिलती है. इसके अलावा अगर किसी को पैरालिसिस की बीमारी है, तो उस अवस्था में इसके पत्तों को गर्म करके प्रभावित जगह सिकाई की जाती है. इससे व्‍यक्ति की नसों में ब्लड का संचार शुरू हो जाता है, जिससे पैरालिसिस मरीजों को काफी लाभ मिलता है. यह डायबिटीज को भी कंट्रोल करता है.
.Tags: Barabanki News, Diabetes, Health News, Lifestyle, Local18, Skin careFIRST PUBLISHED : February 6, 2024, 17:12 ISTDisclaimer: इस खबर में दी गई दवा/औषधि और स्वास्थ्य से जुड़ी सलाह, एक्सपर्ट्स से की गई बातचीत के आधार पर है. यह सामान्य जानकारी है, व्यक्तिगत सलाह नहीं. इसलिए डॉक्टर्स से परामर्श के बाद ही कोई चीज उपयोग करें. Local-18 किसी भी उपयोग से होने वाले नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होगा.



Source link