Kuldeep Yadav Man of the Series in Asia Cup 2023 took blessings from ujjain mahakal baba bageshwar | Asia Cup 2023: इस बाबा के चमत्कार से चमकी कुलदीप यादव की किस्मत! मचा डाला कोहराम

[ad_1]

India vs Sri Lanka, Asia Cup 2023 : भारतीय क्रिकेट टीम ने धाकड़ ओपनर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की कप्तानी में धमाल मचाते हुए श्रीलंका को फाइनल में हरा दिया और एशिया कप ट्रॉफी अपने नाम की. टीम इंडिया ने रिकॉर्ड 8वीं बार इस ट्रॉफी पर कब्जा जमाया. स्पिनर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) का योगदान इसमें कम नहीं है. उन्हें प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया.
भारत ने 8वीं बार जीती ट्रॉफी भारतीय क्रिकेट टीम ने रविवार को इतिहास रच दिया और आठवीं बार एशिया कप (Asia cup-2023) ट्रॉफी अपने नाम की. इसी के साथ रोहित एंड कंपनी ने वर्ल्ड कप 2023 से पहले सभी टीमों के लिए जैसे खतरे की घंटी बजा दी. कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में रविवार को खेले गए फाइनल मैच में पेसर मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj) ने अपनी कातिलाना गेंदबाजी से गदर मचाया और श्रीलंकाई टीम महज 50 रन पर ढेर हो गई. भारत ने बिना कोई विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया. 
टीम में जगह खोज रहे थे कुलदीप
चाइनामैन स्पिनर कुलदीप यादव ने एशिया कप (Asia Cup 2023) में कमाल का प्रदर्शन किया. उन्होंने कुल 9 विकेट झटके, जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द सीरीज चुना गया. कुछ वक्त पहले तक कुलदीप भारतीय टीम में अपनी जगह बनाने की कोशिशों में लगे थे. उन्हें मौके तो मिलते लेकिन सीरीज के सारे मैचों की प्लेइंग-11 का हिस्सा वह नहीं बन पाते थे. अब आलम ये है कि कुलदीप को आगामी वनडे वर्ल्ड कप (ODI World Cup-2023) के लिए ट्रंप कार्ड बताया जा रहा है.
कुलदीप ने मचाया कोहराम
कानपुर से ताल्लुक रखने वाले कुलदीप यादव ने इस टूर्नामेंट में दमदार प्रदर्शन किया. उन्होंने जीत के बाद कहा, ‘पिछले डेढ़ साल से अपनी लय पर काम कर रहा हूं. क्रीज पर अधिक आक्रामक होना. मुझे अपनी गेंदबाजी पसंद है. टी20 में भी लंबाई काफी मायने रखती है. यह विकेटों के बारे में नहीं, केवल लेंथ के बारे में सोचने के बारे में है. उस पर बहुत मेहनत की है. इसका श्रेय रोहित भाई को जाता है. उन्होंने मुझे अपने एस पर काम करने के लिए प्रोत्साहित किया.’
बागेश्वर धाम का आशीर्वाद
चाइनामैन स्पिनर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) को एशिया कप (Asia Cup 2023) में दमदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज चुना गया. कुछ वक्त पहले कुलदीप बागेश्वर धाम के धीरेंद्र शास्त्री के पास हाथ जोड़े बैठे नजर आए थे. इतना ही नहीं, वह उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में भी पूजा-अर्चना करने गए थे. धीरेंद्र शास्त्री अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. 

[ad_2]

Source link