UP Assembly Elections: Priyanka’s Decision – Congress Pratigya Yatra will start in September end – UP Assembly Elections: प्रियंका का फैसला

[ad_1]

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (UP) की सत्ता में वापसी की राह देख रही समाजवादी पार्टी 2022 में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती. कहा जा रहा है कि सपा के 2022 विधानसभा चुनाव के ‘घोषणा पत्र’ में समाजवादी पेंशन योजना, मुफ्त लैपटॉप, छात्रों के लिए मुफ्त स्मार्टफोन और डेटा, महिलाओं के नाम पर प्रॉपर्टी रजिस्टर कराने पर स्टांप ड्यूटी पर ज्यादा रिबेट और नौकरियां तैयार करना शामिल हो सकता है. न्यूज18 को पता चला है कि घोषणा पत्र का फोकस किसानों, रोजगार निर्माण के साथ-साथ महिलाओं, स्वास्थ्य और शिक्षा पर होगा.
फिलहाल, लोगों के साथ जो वादे किए जाएंगे, उन्हें लेकर जमीनी स्तर पर डेटा जुटाने और योजना की संभाव्यता का काम किया जा रहा है. इसे अक्टूबर के अंत तक पूरा किया जाएगा. जबकि, तारीख की घोषणा पार्टी नेतृत्व की तरफ से की जाएगी. जानकारी मिली है कि घोषणा पत्र का सबसे मुख्य हिस्सा छात्रों को लेकर हो सकता है. सपा के पुराने शासन की तरह उन्हें केवल लैपटॉप ही नहीं, बल्कि ऐसे समय में मुफ्त डेटा और स्मार्टफोन की उम्मीद भी कर सकते हैं, जब ऑनलाइन शिक्षा का दौर है.
2022 विधानसभा चुनाव की तैयारियों और सपा के घोषणा पत्र की मुख्य बातों को लेकर न्यूज18 से बातचीत में पार्टी प्रवक्ता और पार्टी की राष्ट्रीय महिला सभा प्रमुख जूही सिंह ने बताया, ‘समाजवादी पार्टी की तरफ से कई योजनाएं चलाई जाती थी, जिन्हें बीजेपी सरकार की तरफ से निलंबित कर दिया गया है. हमारा मुख्य ध्यान अलग-अलग योजनाओं के जरिए महिलाओं को सशक्त करना, महिलाओं को तत्काल और दीर्घ अवधि की राहत देना, हमारे युवाओं के लिए रोजगार के मौके तैयार करना और उत्तर प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को बेहतर बनाना होगा.’
उन्होंने कहा कि समाजवादी पेंशन योजना के तहत महिलाओं को प्रति माह दी जाने वाली 500 रुपये की राशि को बढ़ाया जाएगा. सिंह ने कहा, ‘इससे पहले डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर (DBT) के जरिए महिलाओं को 500 रुपये मिलते थे. इस बार इसे विशेष रूप से तीन या चार गुना बढ़ाया जाएगा. समाजवादी पार्टी सरकार के लिए बच्चों और गर्भवती महिलाओं का पोषण प्राथमिकता पर होगा.’ उन्होंने कहा कि रोजगार निर्माण पर भी ध्यान होगा, क्योंकि राज्य में शिक्षकों और चिकित्सकों की कमी है.
सिंह ने कहा, ‘फिलहाल, राज्य में स्वास्थ्य संरचना की भी कमी है और यह राज्य के लिए बड़ी चुनौती है. हम महिलाओं के नाम से जमीन खरीदने पर ज्यादा रिबेट की घोषणा करने जा रहे हैं. पहले ये 0.5% थी, जिसे एक बार समाजवादी सरकार के गठन पर बढ़ाया जाएगा. महिलाओं के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए हमारा फोकस उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य और कौशल विकास के माध्यम से सशक्त बनाना होगा.’
उन्होंने कहा कि पार्टी घोषणा पत्र में जो भी लिखा है, उसे जमीनी स्तर पर लाने के साथ-साथ चीजों को मुमकिन भी रखना चाहती है. सिंह ने कहा, ‘फ्री डेटा के साथ फ्री लैपटॉप दिए जा सकते हैं और फ्री स्मार्टफोन के लिए भी कुछ योजना होगी, क्योंकि हम देख रहे हैं कि महामारी ने चीजों को काफी बदल दिया है और तकनीक दोबारा फोकस में आ गई है.’

उन्होंने कहा कि हैरिटेज, टूरिज्म और इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ कन्या विद्या धन और लड़कियों के लिए विवाह योजना जैसी योजनाएं भी घोषणा पत्र में होंगी. सपा तीन कृषि कानून लागू नहीं करने का भी वादा करेगी. अखिलेश यादव पहले ही यह घोषणा कर चुके हैं. सिंह ने कहा, ‘पार्टी किसानों को तत्काल राहत देने की भी घोषणा करेगी… कृषि कानूनों को लागू करने का फैसला राज्य पर निर्भर है.’

[ad_2]

Source link